ATM से पैसा न‍िकालने के बाद भी बैंक से फ‍िर ट्रांसफर करवा लेते थे मेवाती गैंग के ये शात‍िर बदमाश

ATM से पैसा न‍िकालने के बाद भी बैंक से फ‍िर ट्रांसफर करवा लेते थे मेवाती गैंग के ये शात‍िर बदमाश

नई द‍िल्‍ली. अगर आप भी बैंक के एटीएम (ATM) और ड‍िपॉज‍िट स्लॉट का प्रयोग करते हैं तो सावधान हो जाएं. द‍िल्‍ली में इंटरस्‍टेट मेवाती गैंग के ऐसे दो शा‍त‍िर बदमाशों को ग‍िरफ्तार क‍िया है जोक‍ि एटीएम से ने केवल पैसे न‍िकाल लेते थे बल्‍क‍ि बैंक से उतनी ही रकम फ‍िर से अपने अकाउंट में ट्रांसफर भी करवा लेते थे. द‍िल्‍ली पुल‍िस (Delhi Police) के साउथ ज‍िला के स्पेशल स्टाफ (Special Staff) टीम ने इंटरस्टेट मेवाती गैंग (Mewati Gang) के ऐसे ही दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है.

यह बदमाश अलग-अलग बैंकों के डेबिट कार्ड (Debit Card) के जरिए एटीएम (ATM) से धोखाधड़ी कर नकद निकासी कर बैंक से पैसे न निकलने का क्लेम कर बैंक से चीटिंग की वारदात को अंजाम देते थे. आरोपी की पहचान अख्तर हुसैन उर्फ राहिल और इरशाद के रूप में हुई है. दोनों मेवात के रहने वाले हैं. इनके पास से अलग-अलग बैंकों के 19 डेबिट कार्ड, 2 पिस्टल, 2 जिंदा कारतूस और 1 कार बरामद किया गया है.

ये भी पढ़ें: दिल्ली: मामूली बात पर ऊबर कैब चालक ने रिटायर सब इंस्पेक्टर को चाकू से गोदा

साउथ दिल्ली के डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि स्पेशल स्टाफ की टीम के कॉन्स्टेबल योगेंद्र को उसके गाड़ी से हथियारों के साथ साकेत इलाके में आने की जानकारी मिली. जानकारी को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ साझा किया गया. जिसके बाद एसीपी विजेंद्र सिंह बिधूड़ी ने स्पेशल स्टाफ इंस्पेक्टर अतुल त्यागी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया. जिसमें एसआई अशोक कुमार अनिल कुमार, हेड कांस्टेबल सुनील कुमार, कॉन्स्टेबल अनूप मीना, अशोक योगेंद्र और अखिलेश को शामिल किया. सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर स्पेशल स्टाफ पुलिस टीम ने साकेत इलाके में ट्रैप लगा कर आरोपियों को दबोच लिया.

पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि यह लोग एटीएम से फर्जी तरीके से निकासी के लिए एक खास तरीके का इस्तेमाल करते थे. केवल उसी एटीएम को निशाना बनाते थे, जिनमें जमा और निकासी दोनों होती थी.

आरोपियों ने बताया कि वो पैसों को निकालने के बाद डिपाजिट स्लॉट को होल्ड कर के रखते थे, जिससे एटीएम कुछ समय के लिए आउट ऑफ सर्विस हो जाता था. वो इस आधार पर निकाली गई राशि के लिए बैंक को क्लेम करते थे जो कुछ समय बाद बैंक उनके एकाउन्ट में क्रेडिट कर देती थी. पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और इनके खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की जांच में जुट गई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Add comment

Topics

Recent posts

Follow us

Don't be shy, get in touch. We love meeting interesting people and making new friends.

Most popular

Most discussed